advertisement

You are here: Homeक्राईम

Crime (17)

अमित वर्मा,सोनभद्र। दो वर्ष पूर्व सब इंस्पेक्टर सुजीत मिश्रा की शादी हुई थी। दारोगा बनने से पूर्व वह एक निजी कंपनी में इंजीनियर थे। जिला अस्पताल में सदर तहसीलदार विकास पांडेय की मौजूदगी में दारोगा के शव का पंचायतनामा हुआ। सीएमएस डॉ. पीबी गौतम ने हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. पीके सिंह और निश्चेतक विशेषज्ञ डॉ. पीके सिंह के पैनल से पोस्टमार्टम करवाया। जिला अस्पताल में दोपहर 12 बजे पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस विभागीय वाहन से शव को लेकर पुलिस लाइन चुर्क में स्थित शहीद स्थल पर पहुंची। यहां पर पुलिस के अधिकारी, कर्मी समेत अन्य लोगों ने सुजीत को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद पुलिस अधीक्षक, एएसपी, सीओ, सदर एसडीएम समेत अन्य अधिकारियों ने शव को कंधा देकर वाहन पर ले जाकर रखा। इस दौरान मृतक दारोगा के बिलख रहे बड़े भाई सुशील मिश्रा ने बताया कि दो भाइयों में सुजीत छोटा था। उनकी दो बहनें भी हैं। सुशील प्रयागराज में ट्रैवेल्स कंपनी का संचालन करते हैं। फरवरी 2016 में सुजीत की शादी प्रतापगढ़ के कुंडा की रहने वाली प्रियंका के साथ हुई थी। वर्तमान में उनकी भयोहू मां के साथ घर पर रहती है। किन परिस्थितियों में सुजीत ने गोली मारकर आत्महत्या की कुछ समझ में नहीं आ रहा है। कहा कि मेरी मां भी हृदय रोग से पीड़ित हैं। सुजीत ने फोन से मुझसे बोला था कि मां को लेकर मंगलवार को बीएचयू पहुंच जाइएगा। मैं इधर से आकर डॉक्टर को दिखा दूंगा। इसके बाद बाद साथ में घर चल कर जन्मदिन मनाऊंगा। भाई के यह शब्द सुन सभी के आंखें भरभरा जा रही थी। वही

तरह-तरह की चर्चाएं होती रही। कोतवाली में दारोगा सुजीत मिश्रा के आत्महत्या करने को लेकर पूरे दिन तरह-तरह की चर्चाएं होती रही। पुलिस विभाग से लेकर आमजन के बीच मित्रवत व्यवहार रखने वाले सुजीत ने अचानक मौत का रास्ता क्यों अपनाया, यह सवाल लोगों के जेहन में बार-बार उठता रहा। खुदकुशी करने का पता नहीं चल सका है। पुलिस का कहना है कि सुजीत के मोबाइल की कॉल डिटेल आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल सकेगा।

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले के शाहजहांपुर चौक कोतवाली क्षेत्र में एक लेखपाल ने सोमवार सुबह खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। फिलहाल अभी लेखपाल की आत्महत्या के कारणों का पता नही चल सका है। पुलिस के मुताबिक, शहर शाहजहांपुर चौक कोतवाली क्षेत्र के गौहरपुरा के रहने वाले लेखपाल सुधीर सक्सेना (45) सदर तहसील में लेखपाल थे। सोमवार सुबह उनके कमरे से गोली चलने की आवाज आई। परिजनों ने जाकर देखा तो लेखपाल खून से लथपथ पड़े थे। चीख-पुकार सुनकर मौके पर भीड़ जुट गई। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई।

पुलिस ने परिजनों ने पूछताछ की और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं परिजनों का कहना है कि सुधीर डिप्रेशन में रहते थे। उनको नींद नहीं आती थी। क्षेत्राधिकारी बलदेव सिंह खनेड़ा ने बताया कि लेखपाल सुधीर सक्सेना (45) अपने परिवार के साथ थाना कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला गौहरपुरा में रहते थे। सोमवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि लेखपाल की घर के अंदर गोली लगने से मौत हो गई है। परिवार के लोगों से पूछताछ की जा रही है।

नई दिल्ली। बॉलीवुड फिल्म अभिनेता आमिर खान के  मोहल्ला अख्तियारपुर स्थित बाग़ में खूंखार अपराधी सलीम उर्फ चचुआ का सड़ा-गला शव मिला है। आपको बता दें की मोहल्ला अख्तियारपुर यूपी के हरदोई के शाहाबाद नगर में है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।  सलीम उर्फ चचुआ (43) के विरुद्ध शाहाबाद कोतवाली में चोरी, लूट, आर्म्स एक्ट सहित पांच मामले दर्ज हैं। 1996 में उसकी हिस्ट्रीशीट खोली गई थी।मृतक के भाई पुत्तन ने बताया कि सलीम 20 दिन से घर से गायब था। वह नशे का भी आदी था। उसको मालूम हुआ कि एक व्यक्ति का शव बाग में पड़ा हुआ है। कपड़ों से उसके शव की शिनाख्त की जा सकी। 

बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित गोकशी के आधार बनाकर की गई हिंसा में इस्पेक्टर सुबोध कुमार सहित दो लोगों की हत्या कर दी गई। पुलिस छापेमारी तेज कर दी है और अब तक 3 लोगों को इस मामले में अरेस्‍ट किया गया है और 4 लोग हिरासत में लिए गए हैं। रात में शुरू हुई छापेमारी मंगलवार को भी जारी है। पुलिस ने कुल 27 नामजद और 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। अब इस हिंसा के मुख्य साजिशकर्ता के नाम का खुलासा भी हो गया है। बजरंग दल से जुड़े योगेश राज पर वहां मौजूद लोगों को भड़काने का आरोप है। योगेश राज को भी गिरफ्तार किया जा चुका है।

पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर में भी योगेश राज का नाम है। एफआईआर के मुताबिक, योगेश राज अपने साथियों के सात मिलकर भीड़ को भड़का रहा । सोमवार दोपहर करीब 1.15 बजे, जब पुलिस चौकी पर भड़की हुई भीड़ पहुंची तो इंस्पेक्टर समेत अन्य अधिकारियों ने उन्हें शांत कराने की कोशिश की।

300 से 500 लोगों ने बोला था पुलिस बल पर धावा :- 
घटना के प्रत्यक्षदर्शी सब इंस्पेक्टर सुरेश कुमार ने बताया कि करीब 300 से 500 लोगों ने पूरे पुलिस बल पर धावा बोला था। सुरेश कुमार ने बताया, भीड़ ने सडक़ जाम कर दी और पुलिस पर पत्थरबाजी करने लगे। उस समय वहां करीब 300 से 500 लोग थे। पूरी पुलिस बल पर हमला किया गया। मैं खुद भी घायल हो गया और इसके बाद मुझे नहीं पता क्या हुआ?

परिजन को 50 लाख रुपए की सहायता:-
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर में गोकशी की अफवाह के बाद हुई हिंसा पर दुख व्यक्त किया और उस हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी को 40 लाख रुपये व माता-पिता को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। इसके अलावा उन्होंने दिवंगत इंस्पेक्टर के आश्रित परिवार को असाधारण पेंशन तथा परिवार के एक सदस्य को मृतक आश्रित के तौर पर सरकारी नौकरी देने का भी ऐलान किया।

आजम खान ने कहा ...
बुलंदशहर हिंसा पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आजम खान ने कहा कि अगर सच में गोवंश का मांस इलाके में मिला है तो इसकी पुलिस जांच करे। क्योंकि उस क्षेत्र में अल्पसंख्यकों की आबादी नहीं है।

2 दिन में जांच रिपोर्ट देने का आदेश:-
यही नहीं, मुख्यमंत्री ने दो दिन के अंदर ही मामले की जांच कर रिपोर्ट देने का आदेश भी दिया है। इस सिलसिले में उन्होंने देर रात एक बयान जारी किया। योगी ने बुलंदशहर के चिंगरावठी इलाके में गोवंशीय पशुओं के अवशेष मिलने को लेकर उग्र भीड़ द्वारा की गई हिंसा में स्याना के कोतवाल इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और स्थानीय निवासी सुमित की मृत्यु पर गहरा दु:ख व्यक्त किया।

उन्होंने अपर पुलिस महानिदेशक (अभिसूचना) एस. बी. शिरडकर को तत्काल मौके पर जाकर दो दिन में पूरे मामले की जांच कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि जांच रिपोर्ट में घटना के कारणों तथा दोषी व्यक्तियों का विवरण भी शामिल किया जाए।

बुलंदशहर : सोमवार को स्याना कोतवाली के गांव महाव में गोकशी के बाद जमकर बवाल हुआ। गुस्साई भीड़ ने बुलंदशहर-गढ़ स्टेट हाईवे पर गोवंशों के अवशेष रखकर जाम लगा दिया और वाहनों मे तोड़-फोड़ कर आगजनी की गई और पुलिस चौकी को भी फूंक दिया गया। स्याना कोतवाल की भी हत्या कर दी गई, जबकि गोली लगने से घायल सुमित की मौत हो गई। पथराव में सीओ स्याना समेत सात पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। घटना के बाद एडीजी, आईजी और डीएम-एसएसपी मौके पर डेरा डाले हुए हैं। क्षेत्र में जबरदस्त तनाव का माहौल देखते हुए पीएसी और आरएएफ की 11 कंपनी तैनात कर दी गई हैं।

स्याना कोतवाली के गांव महाव में रविवार देर रात ईख के खेत में 25-30 गोवंश अज्ञात लोगों ने काट डाले। सुबह करीब आठ बजे ग्रामीणों ने खेतों में गोवंश के अवशेष देखे तो उनका गुस्सा भड़क गया। जिसकी सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और उन्होंने ग्रामीणों को समझानें का प्रयास किया, लेकिन गुस्साए लोग जबरन ट्रैक्टर-ट्रॉली में गोवंश के अवशेषों को भरकर चिंगरावठी पुलिस चौकी पर जा पहुंचे। जहां पर हिन्दूवादी संगठन बजरंग दल सहित अन्य संगठनों के लोग भी आ गए। उनके द्वारा बुलंदशहर-गढ़मुक्तेश्वर स्टेट हाईवे पर जाम लगाकर पुलिस-प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की गई, इस दौरान बुलंदशहर में तब्लीगी इज्तमा से लौट रहे लोगों सहित अन्य अनेक वाहन जाम में फंस गए। जिससे पुलिस प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए।

मौके पर पहुंचे एसडीएम स्याना अविनाश कुमार मौर्य, सीओ स्याना एसपी शर्मा और कोतवाल स्याना सुबोध कुमार सिंह ने भीड़ को पहले समझाने का प्रयास किया। जब नहीं माने तो पुलिस ने जाम खुलवाने को लाठीचार्ज कर दिया। जिसके जवाब में भीड़ ने पथराव किया। जिसमें कोतवाल सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई। जबकि सीओ सहित अन्य पुलिसकर्मियों को चिंगरावठी पुलिस चौकी में ही जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। जिन्होंने रोशनदान से खेतों में निकलकर जान बचायी।र, आईजी रामकुमार,डीएम अनुज कुमार झा, एसएसपी केबी सिंह घटनास्थल पर पहुंच गये और उन्होंने जैसे-तैसे ग्रामीणों को शांत किया।
ये पुलिसकर्मी भी हुए घायल
सीओ स्याना एसपी शर्मा, सतेन्द्र सिंह एसओ खानपुर, सुरेश कुमार चौकी इंचार्ज चिंगरावठी, राजेन्द्र कुमार होमगार्ड कोतवाल का हमराह।

सीएम ने मृतक इंस्पेक्टर के परिवार वालों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर की घटना के दिवंगत पुलिस इंस्पेक्टर की पत्नी को 40 लाख रु तथा माता-पिता को 10 लाख रु आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। इसके साथ ही उन्होंने दिवंगत इंस्पेक्टर के आश्रित परिवार को असाधारण पेंशन तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की भी घोषणा की है

मुंबई (25 जनवरी): 70 साल की एक महिला को हाउस टैक्स न चुकाना उस वक्त महंगा पड़ गया जब नगर निगम के कर्चारियों ने उसे घर में ही सील कर दिया। पूरा मामला मुंबई के विरार इलाके का है। यहां नगर निगम का एक फ्लैट पर 7675 रुपये के हाउस टैक्स बाकी था। इस टैक्स की वसूली के लिए वसई-विरार म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के दो कॉन्ट्रैक्ट वर्कर पहुंचे और उन्होंने गेट को बाहर से सील कर दिया।

 

बाद में जब पड़ोसियों ने आपत्ति दर्ज कराई तब तक म्युनिसिपल के कर्मचारियों ने इसका सील खोला। दरअसल महिला अपने बेटी और दामद के घर आई हुई थी। और घटना के वक्त उसके बेटी-दमामा काम पर गए हुए थे।

पटना(14 जनवरी): बिहार में अपराधियों को कानून का डर खत्म हो गया। तभी तो आए दिन किसी ना किसी की गोली मारकर हत्या कर दी जाती है। ताजा मामला है राजधानी पटना का। पटना के फुलवारीशरीफ इलाके में सब-इंसपेक्टर के बेटे की गोली मार कर हत्या कर दी गई है

 

 

 

शामली(13 जनवरी): शामली जनपद के कांधला कस्बे से पुलिस ने छापेमारी करके एक घर अवैध तमंचा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है।

 

- पुलिस ने 203 पिस्टल और राइफल बरामद किया है। यहां एक युवक पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया।

 

- गिरफ्तार आरोपी युवक पहले भी जेल जा चुका है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है, वहीं इस मामले में आरोपी के पिता की भी तलाश की जा रही है।

 

- प्रदेश में चुनाव की घोषणा होते ही अवैध हथियारों का कारोबार जोर पकड़ता है। पुलिस अधिकारी सीओ भूषण वर्मा का कहना है कि शामली जनपद की कांधला पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर क़स्बा कांधला में कल्लू के घर में छापा मारा, जहां से पुलिस ने शेर खान नाम के व्यक्ति को पकड़ लिया।

 

 

 

 

नई दिल्ली (9 जनवरी): क्या ओमपुरी की मौत सामान्य हालात में नहीं हुई थी, क्या उनकी हत्या की गई थी, अगर हत्या की गयी थी तो कौन था हत्यारा और क्या था मकसद ये ढेर सारे सवाल अब औशिवारा पुलिस के जहन में घूम रहे हैं।

 

 

दरअसल ये सारे सवाल ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद खड़े हुए है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार, उनके सिर में चोट के निशान, कॉलर बोन और लेफ्ट आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। इससे पहले ओम पुरी की सामान्य मौत को लेकर कई लोगों ने आशंका भी जताई थी।

 

 

ओम पुरी शुक्रवार को अपने घर में मृत पाए गए थे और दिल का दौरा पड़ना उनकी मौत का कारण बताया जा रहा था। ओशिवारा पुलिस सूत्रों के अनुसार, ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पुलिस को प्राप्त हो चुकी है।

 

 

 रिपोर्ट के मुताबिक, पुरी के सिर के ऊपरी हिस्से में डेढ़ इंच गहरा और 4 सेंटीमीटर लंबा जख्म था। सिर में कई जगह क्लॉटिंग थी। कॉलर बोन और लेफ्ट अपर आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। इस बाबत ओशिवारा थाने के सीनियर इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा,'हम हर ऐंगल से मामले की जांच कर रहे हैं।

 

 

 

पुरी जिस बिल्डिंग में रहते थे, वहां का विजिटर्स रजिस्टर और सीसीटीवी कैमरे जब्त किए हैं। मौत से पहले आखिरी 24 घंटे में वह जिन लोगों से मिले थे, उनसे भी पूछताछ की जा रही है। उनके करीबी सूत्र ने बताया था कि ओम पुरी 5 जनवरी की दोपहर से देर रात तक लगातार शराब पी रहे थे,

 

 

वह बार-बार अपने पारिवारिक और कोर्ट-कचहरी के मसलों को लेकर परेशान हो रहे थे। दोपहर से लेकर देर रात तक उनकी रिलीज के लिए तैयार फिल्म 'रामभजन जिंदाबाद' की टीम भी उनके साथ थी।

 

 

 

कानपुर(6 जनवरी): दिल्ली से हावड़ा जा रही 12302 राजधानी एक्सप्रेस के बी-7 कोच में बीएसएफ जवान पर महिला से छेड़छाड़ का आरोप लगा है।

 

 

अलीगढ़ के पास हुई इस घटना की एफआईआर कानपुर सेंट्रल के जीआरपी थाने में लिखी गई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया।

 

 

- जीआरपी के अनुसार, झज्जर (हरियाणा) का रहने वाला BSF जवान सुरेंद्र यादव गुरुवार को राजधानी एक्सप्रेस से ड्यूटी पर कोलकाता जा रहा था।

 

 

- आरोप है कि बी-7 कोच में सीट नंबर-6 पर उसने एक महिला से अलीगढ़ के पास अश्लील हरकतें की।

 

- महिला के हंगामे पर टीटीई और ट्रेन एस्कॉर्ट ने कानपुर स्टेशन पर सूचना दी। दोपहर बाद ट्रेन स्टेशन पर पहुंची तो आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

 

 

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

IPL की साख पर सवाल गलत: श्रीनिवासन

IPL की साख पर स...

नई दिल्ली।। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड...

अरुणाचल की तीरंदाजों को चीन ने दिया नत्थी वीजा!

अरुणाचल की तीरं...

नई दिल्ली।। अरुणाचल प्रदेश की दो नाबालिग...

Video of the Day

Right Advt

Contact Us

  • Address: 276/230, PB keedganj, Allahbad, UP
  • Tel: +(91) 9452377524
  • Email:  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.  
  • Website: http://smartindianews.in/

About Us

 

Smart India is one of the renowned Hindi web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Smart India' is founded by Pramod Babu Jha.